आधार कार्ड कैसे बनाये?

आधार कार्ड बनाने की प्रक्रिया

जानिये आधार कार्ड कैसे बनाये:

  • आधार कार्ड नामांकन भारत के निवासियों के लिए मुफ्त और स्वैच्छिक है।
  • आप भारत में कहीं भी, किसी भी स्थान पर आधार कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।

दोस्तों आप सभी यही सोच रहे होंगे कि हम इसमें ऑनलाइन किस प्रकार आवेदन करेंगे? तथा क्या यह प्रक्रिया आसान होगी? इसके लिए क्या पात्रता होगी क्या कागजात चाहिए ?दोस्तों घबराने की जरूरत नहीं है |ध्यान से पढ़ें |मैं आपको नीचे इसकी सारी जानकारी दे रहा हू।

आधार कार्ड बनाने के लिए जरूरी दस्तावेज 

  • पैन कार्ड
  • राशन कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • वोटर ID
  • मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान द्वारा जारी फोटो पहचान पत्र
  • शस्त्र लाइसेंस
  • बैंक की डायरी
  • फोटो क्रेडिट या डेबिट कार्ड
  • पेंशनभोगी फोटो कार्ड
  • स्वतंत्रता सेनानी फोटो कार्ड
  • किसान फोटो पासबुक

आधार कार्ड के लाभ

  • किसी भी काम को करने के लिए आधार कार्ड की आवश्यकता पड़ती है|
  • स्कूल या कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए आधार कार्ड चाहिए |
  • किसी भी फॉर्म को भरने के लिए आधार कार्ड नंबर पूछा जाता है |
  • नया सिम कार्ड लेने के लिए भी आधार कार्ड चाहिए |
  • पैन कार्ड को अप्लाई करने के लिए भी सबसे पहले हमारे पास आधार कार्ड होना चाहिए |
  • या हम यह बोल सकते हैं कि बिना आधार कार्ड के अब कोई भी काम संभव नहीं है|

आधार कार्ड बनवाने के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट

मेरे प्यारे दोस्तों यदि आप अधार कार्ड बनवाना चाहते हैं |तो आपको पहले ऑनलाइन अपॉइंटमेंट लेनी होगी जो की बहुत ही आसान है| हम आपको बताएंगे कि आपने आधार कार्ड के लिए किस प्रकार ऑनलाइन अपॉइंटमेंट लेंगे ध्यानपूर्वक पढ़ें|

आपको आधार सेन्टर मे जाकर के लम्बी कतार में घंटो खडे रहने की कोई जरुरत नहीं है| क्यूंकि अब आप अपॉइंटमेंट ऑनलाइन ले सकते है |

  •   UIDAI की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाये|

http://appointments.uidai.gov.in/

  •  आप अपनी स्टेट का चयन करे|
  •  अगले कॉलम में District/City चयन करे|
  •  आप अपना एरिया का चयन करे|
  • अब आप Search बटन पर क्लिक करे|
  • अब आपकी स्क्रीन पर आधार कार्ड एनरोलमेंट सेन्टर का अपॉइंटमेंट फॉर्म खुल गया है |
  •  आप इसमें अपनी ई-मेल अईडी, कांटेक्ट नंबर, स्टेट, सिटी डाले और अपने आस पास के आधार सेन्टर का पता डालें |
  • अब आपको जिस तारीख, जिस समय जाना हो वो समय और तारीख उसमे डालें|
  •  आप “Fix Appointment” बटन पर क्लिक करें आपकी अपॉइंटमेंट पक्की हो गई है

आधार कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन | How apply  for new aadhaar card

  • क्लिक करने के बाद आधार कार्ड एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा|
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म को डाउनलोड करें|
  •  इसमें जो भी जानकारी दी गई है उसको भरे
  • इसमें एक फोटो अपलोड करें
  • सबमिट बटन पर क्लिक करें|

आधार कार्ड बनाने के लिए ऑफलाइन आवेदन

  • प्यारे दोस्तों यदि आप ऑनलाइन आवेदन नहीं कर सकते हैं या आपको करना नहीं आ रहा है| तब भी घबराने की जरूरत नहीं है|
  • आप अपने नजदीकी डीसी (DC Office )ऑफिस में जाकर भी अपने आधार कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं|
  • या मेरे प्यारे दोस्तों आपके घर के नजदीक भी कई बार आधार कार्ड बनाने वाले आते हैं|
  • उनके पास जाकर आप अपनी सारी जानकारी देकर तथा अपनी वहां पर फोटो खिंचवाकर भी आधार कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं |
  • तब कुछ ही दिनों में आपका आधार कार्ड आज तक पहुंच जाएगा |
  • परंतु ध्यान रहे जब भी आप आधार कार्ड बनवाएं अपना नाम, पता, जन्म ,तारीख ,सन ,सब कुछ सही सही बताए|
  • यदि आप इसमें कोई त्रुटि करते हैं तो आपका आधार कार्ड गलत बन जाएगा |
  • और जो फिर आपको मुश्किल पैदा करेगा |
  • इसलिए कृपया अपनी सारी जानकारी सही-सही दें|
  • इस प्रकार आप ऑफलाइन भी आधार कार्ड बनवा सकते हैं

आधार कहाँ-कहाँ उपयोग में आता है या माँगा जाता है

जैसे की आप जानते हीं है की आधार एक आइडेंटिटी प्रूफ की तरह काम करता है. पुरे देश भर में आप किसी भी प्रकार की सरकारी योजना के लिए अप्लाई करने जायेंगे तो आधार कार्ड अवश्य माँगा जायेगा. प्राइवेट कंपनी या एजेंसीज भी आधार कार्ड आइडेंटिटी प्रूफ के लिए मांगती है. आधार के द्वारा आप कोई भी सरकारी या निजी कंपनी का सर्विस लाभ बहुत आसानी से उठा पाएंगे. सर्विसेज जैसे गैस कनेक्शन, बिजली कनेक्शन, बैंक खाता, राशन कार्ड  इत्यादि के लिए आधार जरूर माँगा जाता है.

आधार कार्ड के विशेषताएं

  • विशिष्टता: हर एक निवासी का आधार नंबर यूनिक होता है. यह कभी-भी सामान नहीं हो सकता है और न ही बदल सकता है. अगर, किसी का एक बार आधार नंबर जेनेरेट हो गया तो वो कभी-भी दोबारा नया आधार कार्ड के लिए एनरोलमेंट नहीं करवा सकता है. अगर, कोई दोबारा अपना आधार एनरोलमेंट करवाता है तो वह रिजेक्ट कर दिया जायेगा.
  • पोर्टेबिलिटी: आधार कई फॉर्म में जैसे आधार कार्ड, पेपर प्रिंट आउट, ई-आधार, एम आधार ऐप आदि में अपने साथ ले जाया जा सकता है. आधार कार्ड की हार्ड कॉपी ज्यादा-तर ऑफलाइन सर्विस का लाभ उठाने के लिए दिखाना पड़ता है. ऑनलाइन सर्विस का लाभ सिर्फ आधार नंबर के द्वारा उठाया जा सकता है.
  • प्रभावी प्रौद्योगिकी वास्तुकला: आधार का डेटा केंद्र में स्टोर के रखा जाता है देश के किसी भी कोने से ऑनलाइन ऑथेंटिकेट किया जा सकता है. UIDAI के अनुसार आधार का आधारिक संरचना एक दिन एक मिलियन से ज्यादा ऑथेंटिकेशन्स को हैंडल कर सकते है.

आधार के अन्य और फीचर्स है जैसे आधार नंबर रैंडम जेनेरेट होता है, इसके लिए कोई पैटर्न या अल्गोरिथम का उपयोग नहीं किया जाता। आधार के एक और विशेस्ता यह भी है की यह ओपन सोर्स है, साधारण भासा में कहे तो यह प्लेटफार्म इंडिपेंडेंट है.

Leave a Comment